अमिताभ बच्चन के महान प्रेरक अनमोल विचार

Share:
आज मैं आपको अमिताभ बच्चन के महान प्रेरक अनमोल विचार Amitabh Bachchan Quotes Dialogues in Hindi के बारे में बताने जा रहा हूँ जिसमे में आपको Amitabh Bachchan Thought के बारे में बताऊंगा जिससे आप Amitabh Bachchan को नजदीकी से जान सकेंगे अगर आप Amitabh Bachchan को जानते हैं और आप उनके विचारो के बारे में जानना चाहते हैं इस आर्टिकल को ध्यान से जरूर पढ़े.
Amitabh Bachchan Quotes Dialogues in Hindi

अमिताभ बच्चन के महान प्रेरक अनमोल विचार

अमिताभ बच्चन फ़िल्मी जगत के जाने माने एक्टर हैं जिन्होंने अपनी कलाकरी से दुनिया को अपनी और खीच लिए. अमिताभ बच्चन को आज के टाइम में हर कोई जनता है और हर उनका सम्मान करता है, इन्होने अपनी जिन्दगी में बहुत सारी मुसीबतो का सामना किया तब जाकर ये सफल कलाकार बने.

हिंदी फ़िल्मी जगत में इनका सिक्का चलता है और चलना भी चाहिए क्योंकि ये एक सफल कलाकार के साथ एक महान इन्सान हैं. आज हम इनके कुछ महान प्रेरक अनमोल विचार और कुछ Dialogues दूंगा. मैं आशा करता हूँ की आपको पसंद आयेंगे.

Amitabh Bachchan Quotes Dialogues in Hindi

मुझे कभी-कभी इस तथ्य से दुःख होता है कि मेरे पास एक पूर्ण और निरोग शरीर नहीं है.
मैंने बोफोर्स की वजह से राजनीति नहीं छोड़ी. मैंने राजनीती इसलिए छोड़ी क्योंकि मैं तुच्छ राजनीतिक खेल खेलना नहीं खेलना नहीं जानता. मैं तब भी नहीं जानता था और अब भी नहीं जानता हूँ.
मैं कभी भी अपने कैरियर को लेकर आश्वस्त नहीं रहा हूँ.
मैं कभी एक सुपरस्टार नहीं रहा और कभी इसमें यकीन नहीं किया.
ऐसी बहुत सी चीजें हैं जो मुझे लगता है कि मैंने कई चीजें मिस कर दी हैं.
असल में मैं बस एक अभिनेता हूँ जो अपने काम से प्यार करता है और उम्र के बारे में ये सब बातें केवल मीडिया में पनपती हैं.
मुझे ऐश्वर्या के साथ रोमांस करने में ख़ुशी होगी. लेकिन मैं अट्ठावन साल का हूँ. इसलिए मुझे उनका पिता बनना होगा.
मैं अपनी ज़िन्दगी जितना संभव हो उतने स्वाभाविक और सामान्य तरीके से व्यतीत कर सकता हूँ करता हूँ. लेकिन अगर दिन रात विवाद मेरे पीछे पड़े रहें तो मैं इसका कुछ नहीं कर सकता. मुझे कभी-कभी आश्चर्य होता है कि वे किस तरह ये सब करते हैं. मैं दाढ़ी बढ़ता हूँ और वह टाइम्स ऑफ़ इंडिया के सम्पादकीय में आ जाता है.
सच कहूँ तो मैं कभी ‘आइकन’, ‘सुपरस्टार’, इत्यदि विश्लेषणों के चक्कर में नहीं पड़ा. मैं हमेशा खुद को एक अभिनेता के रूप में देखता हूँ जो अपनी काबीलियत के अनुसार जितना अच्छा कर सकता है कर रहा है.

Amitabh bachchan quotes on life in hindi

प्रिय टीवी मीडिया और मेरे घर के बाहर खड़ी वैन्स, कृपया इतना तनाव मत लीजिये और इतनी कड़ी मेहनत मत कीजिये.
यह एक रणक्षेत्र है, मेरा शरीर, जिसने बहुत कुछ सहा है.
मुझे कभी-कभी इस तथ्य से दुःख होता है कि मेरे पास एक पूर्ण और निरोग शरीर नहीं है.
मैंने बोफोर्स की वजह से राजनीति नहीं छोड़ी. मैंने राजनीती इसलिए छोड़ी क्योंकि मैं तुच्छ राजनीतिक खेल खेलना नहीं खेलना नहीं जानता. मैं तब भी नहीं जानता था और अब भी नहीं जानता हूँ.
मैं कभी भी अपने कैरियर को लेकर आश्वस्त नहीं रहा हूँ.
मैं जिन चीजों से गुजरा हूँ और जिस असाधारण तरीके से मेरे शरीर ने प्रतिक्रिया की वह अद्भुत है. आश्चर्य नहीं की मैं धार्मिक हो गया, क्योंकि आप नहीं जानते कि आपके साथ कुछ चीजें क्यों हो रही हैं और आपको नहीं पता की आप कैसे बाउंस बैक करते हैं.
हर किसी को स्वीकार करना चाहिए कि हमारी उम्र बढ़ेगी और उम्र का बढ़ना हमेशा प्रशंशापूर्ण नहीं होता.
जो थोड़े-बहुत लोग यथार्थवादी सिनेमा बनाते हैं, जो ऐसा सिनेमा बनाते हैं जो शायद पश्चिमी दर्शकों को अधिक स्वीकार्य है, वे बहुत कम हैं.
हमारी कहानियों के स्वरुप की वजह से से भारतीय अभिनेताओं को अच्छा अभिनय आना ज़रूरी है, और उन्हें भावनात्मक दृश्यों, थोड़ी कोमेडी, नाचना- गाना, एक्शन आना चाहिए, क्योंकि ये सब एक ही फिल्म का हिस्सा होते हैं. मैं कहूँगा कि कई मायनो होलीवुड अभिनेताओं की तुलना में भारतीय अभिनेताओं से अधिक अपेक्षा होती है.
मैं किसी तकनीक का प्रयोग नहीं करता; मैं अभिनय करने के लिए प्रशिक्षित नहीं किया गया. मैं बस फिल्मो में काम करना पसंद करता हूँ.
आखरी विचार: मैं आशा करता हूँ की आपको अमिताभ बच्चन के महान प्रेरक अनमोल विचार Amitabh Bachchan Quotes Dialogues in Hindi. पसंद आये होंगे तो प्लीज आप इसे शेयर करे और अच्छा लगे तो निचे कमेंट करे.

No comments